झीरम हमले में शहीद नेता महेन्द्र कर्मा पर ‘बस्तर टाइगर’ फ़िल्म बनाने का ऐलान

मिसाल न्यूज़

रायपुर। बहुचर्चित आदिवासी नेता एवं पूर्व मंत्री महेन्द्र कर्मा पर हिन्दी व छत्तीसगढ़ी में फ़िल्म बनने जा रही है। फ़िल्म का नाम ‘बस्तर टाइगर’ होगा। फ़िल्म की घोषणा आज राजधानी रायपुर के एक हॉटल में मीडिया के समक्ष हुई। उल्लेखनीय है कि महेन्द्र कर्मा मई 2013 में झीरम घाटी नक्सली हमले में शहीद हुए थे।

प्रोड्यूसर जितेन्द्र साहू, साहित्कार अरविंद मिश्रा, गायक-संगीतकार दिलीप षड़ंगी, लेखक व्दय कुणाल शुक्ला व प्रीति उपाध्याय एवं गीतकार मीर अली मीर की उपस्थिति में ‘बस्तर टाइगर’ बनाने का ऐलान हुआ। साहित्यकार अरविंद मिश्रा ने कहा कि छत्तीसगढ़ कितनी ही विशेषताओं को समेटे हुए है। यहां ऐसे कितने ही विषय हैं जिन पर फ़िल्म बनाई जा सकती है। जाने-माने गायक व संगीतकार तथा कांग्रेस नेता दिलीप षड़ंगी ने कहा कि कर्मा जी ऐसा चरित्र हैं जिन पर बहुत कुछ जानने की ज़रूरत है। यहां पर मीडिया की भूमिका महत्वपूर्ण हो जाती है। फ़िल्म तो बन जाएगी लेकिन जन-जन तक उसका प्रचार प्रसार मीडिया के माध्यम से ही संभव होगा। गीतकार मीर अली मीर ने कहा कि बस्तर टाइगर के गीत लिखने की जिम्मेदारी मुझे मिली। एक गीत ऐसा भी है जिसमें बस्तर-दंडकारण्य की महिमा का वर्णण है। मीर अली मीर ने ‘बस्तर टाइगर’ के गीतों का मुखड़ा भी सुनाया। लेखक कुणाल शुक्ला ने कहा कि महेन्द्र कर्मा जी के रोल के लिए तलाश जारी है। जिस झीरम घाटी हमले  में कर्मा जी शहीद हुए उस पर मैंने रिसर्च किया है। अब उन पर फ़िल्म लिखना बड़ी जिम्मेदारी है। लेखक प्रीति उपाध्याय ने कहा कि कर्मा जी की ख्याति छत्तीसगढ़ तक ही नहीं बल्कि राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर थी। सलवा जुडूम जैसे बड़े मिशन से वे गहराई से जुड़े हुए थे। प्रोड्यूसर जितेन्द्र साहू ने कहा कि ‘बस्तर टाइगर’ के निर्देशन का जिम्मा किसी योग्य एवं अनुभवी के कंधों पर जाएगा। कलाकारों का चयन होना भी बाकी है। यह फ़िल्म कर्मा वीडियो वर्ल्ड के बैनर तले बनने जा रही है। कार्यक्रम का संचालन नमित साहू ने किया। फ़िल्म के पीआरओ दिलीप नामपल्लीवार हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.