तीन दिन में निपटेगा टाटीबंध फ्लाईओवर का जमीन अधिग्रहण मामला, बीरगांव में पानी योजना के काम में देरी पर ठेकेदार को मिलेगा नोटिस

मिसाल न्यूज़

रायपुर। रायपुर जिले के नव नियुक्त कलेक्टर डॉ सर्वेश्वर भुरे ने आज सुबह से शाम तक टाटीबंध से लेकर खरोरा तक का सघन दौरा किया। उन्होंने टाटीबंध फ्लाई ओवर जमीन अधिग्रहण मामले को तीन दिन में सुलझाने केे निर्देश अधिनस्थ अफसर को दिए। वहीं बीरगांव नगर निगम क्षेत्र में जल आवर्धन योजना के काम में देरी पर ठेकेदार को नोटिस देने के निर्देश दिए।

कलेक्टर ने टाटीबंद फ्लाईओवर निर्माण कार्य, बीरगांव नगर निगम क्षेत्र में विकास योजनाओं की प्रगति, धरसीवां और तिल्दा सी.एस.सी, नगर पंचायत कुंरा और खरोरा, नगर पालका तिल्दा कार्यालय सहित तिल्दा और खरोरा तहसील कार्यालयों का भी आज औचक निरीक्षण किया। एस.एस.पी प्रशांत अग्रवाल के साथ सुबह सबसे पहले रिमझिम बारिश के बीच कलेक्टर डॉ भुरे ने टाटीबंध पहुंच कर निर्माणाधीन फ्लाईओवर के काम का निरीक्षण किया। उन्होंने इस दौरान मौजूद राष्ट्रीय राजमार्ग विकास प्राधिकरण के अधिकारियों और काम करने वाले ठेकेदार से मौके पर ही पूरी जानकारी ली। अधिकारियों ने बताया कि एक जमीन के टुकड़े के अधिग्रहण संबंधी प्रकरण के कारण फ्लाईओवर निर्माण की गति धीमी हो गई है। कलेक्टर ने मौके पर मौजूद एस.डी.एम को अगले तीन दिनों में इस प्रकरण को निराकृत करने के निर्देश दिए। डॉ भूरे ने फ्लाईओवर के काम में तेजी लाने के लिए बिजली के खंबे हटाने की प्रक्रिया भी शुरू करने के निर्देश दिए। उन्होंने भिलाई की तरफ से फ्लाईओवर के रेम्प बनाने का काम जल्द से जल्द शुरू करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। कलेक्टर ने फ्लाईओवर के काम के साथ-साथ बारिश के मौसम को देखते हुए पानी निकासी की व्यवस्था रखने के निर्देश दिए। उन्होंने फ्लाईओवर बनाने के काम की प्रतिदिन रिपोर्ट देने के निर्देश भी अधिकारियों को दिए।

बीरगांव पहुंचे कलेक्टर डॉ सर्वेश्वर भुरे ने नगर निगम कार्यालय में नगरीय विकास योजनाओं की समीक्षा की। इस दौरान महापौर नंदलाल देवागंन और नगर निगम आयुक्त श्रीकांत वर्मा भी उपस्थित रहे। कलेक्टर ने बीरगांव नगर निगम क्षेत्र में लोगों को पीने का साफ पानी उपलब्ध कराने के लिए स्वीकृत पेयजल आवर्धन योजना के काम की प्रगति की जानकारी अधिकारियों से ली। अधिकारियों ने बताया कि इस योजना का काम इसी महीने पूरा होना था परंतु कोविड संक्रमण के चलते काम में देरी हुई है और इसकी पूर्णतः अवधि इस वर्ष दिसंबर माह तक बढ़ाई गई है। कलेक्टर डॉ भूरे ने पाइपलाइन विस्तार, पानी टंकियों का निर्माण आदि विषयों पर जानकारी ली। अधिकारियों ने बताया कि ठेकेदार द्वारा लगातार लापरवाही बरतने के कारण आठ में से केवल तीन टंकिया ही अभी तक बन पाई है। पांच टंकियों का काम शुरू नही हुआ है। अधिकारियों ने यह भी बताया कि ठेकेदार काम अधूरा छोड़कर चला गया है। कलेक्टर ने इस पर गहरी नाराजगी जताई। डॉ भूरे ने ठेकेदार श्रीहरि इन्फ्रा प्रोजेक्ट प्राइवेट लिमिटेड को तत्काल कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश नगर निगम आयुक्त को दिए। कलेक्टर ने बीरगांव नगर निगम क्षेत्रों में जल आवर्धन योजना के सभी कामों पर अतिरिक्त व्यय के प्रस्ताव एकसाथ बनाकर एक सप्ताह के भीतर नगरीय प्रशासन विभाग को भेजने के निर्देश भी दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.