यूनिसेफ व्दारा उपलब्ध कराए गए संचार और मीडिया उपकरण मुख्यमंत्री ने सौंपे

0 50 लाख लोगों तक संदेश पहुंचाने पहल

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की ओर से यूनिसेफ और यूएस-एड द्वारा उपलब्ध कराए गए नवीनतम संचार उपकरण सौंपे गए। इन उपकरणों का उपयोग आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, मितानिनों और युवा स्वयं सेवकों द्वारा राज्य के 80 आदिवासी प्रखंडों में लगभग 50 लाख लोगों को स्वास्थ्य, पोषण, कोविड टीकाकरण और सुरक्षित पानी और स्वच्छता पर संदेश पहुंचाने के लिए किया जाएगा।

बच्चों के स्वास्थ्य और पोषण में सुधार के लिए राज्य में यूनिसेफ की पहल की सराहना करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य ने कुपोषण और मलेरिया को कम करने में बेहतर परिणाम हासिल किए हैं। “मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान, मुख्यमंत्री हाट बाजार स्वस्थ कार्यक्रम का काफ़ी अच्छा परिणाम देखने को मिला है। सामाजिक और व्यवहारिक परिवर्तन स्वास्थ्य, पोषण, स्वच्छता प्रथाओं और निरंतर सीखने को बढ़ावा देने की कुंजी है। यूनिसेफ और यूएसएड समुदायों तक महत्वपूर्ण संदेश पहुंचाने में @CMOCG के साथ भागीदार बनकर प्रसन्न हैं। राज्य की वार्षिक परजीवी घटना (एपीआई) दर 2.63 (2018) घटकर अब 0.91 हो गई है। संचार परिवारों और समुदायों में परिवर्तन लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।” संचार उपकरण में मेगाफोन, ज्यूकबॉक्स और पिको प्रोजेक्टर शामिल हैं। इन टूल के माध्यम से प्रसारित संदेश एडुटेनमेंट प्रारूप में हैं। यह व्यवहार परिवर्तन के लिए लोगों के साथ चर्चा और संवाद को भी बढ़ावा देगा।

यूनिसेफ छत्तीसगढ़ के प्रमुख जॉब जकारिया ने कहा कि संचार किट फ्रंटलाइन कार्यकर्ताओं, सीएसओ और स्वयंसेवी नेटवर्क को कम समय में बड़ी संख्या में लोगों तक पहुंचने में सक्षम बनाएगी। उन्होंने कहा, “यह सराहनीय है कि सरकार राज्य के सबसे दूरस्थ वन और आदिवासी गांवों में अधिक ध्यान दे रही है।”

सौमिल चौबे, अतिरिक्त सीईओ छत्तीसगढ़ संवाद ने कहा कि राज्य में व्यवहार परिवर्तन संचार रणनीतियों के आसपास क्षमता निर्माण में यूनिसेफ विशेषज्ञता महत्वपूर्ण होगी। छत्तीसगढ़ के यूनिसेफ राज्य कार्यालय के एसबीसी विशेषज्ञ अभिषेक सिंह ने कहा, “इन उपकरणों के उपयोग से लाभार्थियों को शिक्षित और सशक्त बनाने के लिए मिड-मीडिया के उपयोग को और अधिक कुशल बनाया जाएगा।”

यूनिसेफ-यूएसएआईडी साझेदारी ने राज्य के 80 ब्लॉकों को 720 मेगाफोन, 114 पिको प्रोजेक्टर और 300 ज्यूकबॉक्स प्रदान किए हैं। राज्य के आदिवासी क्षेत्रों में काम कर रहे कुछ नागरिक समाज संगठनों को भी समुदाय में सही जानकारी बढ़ाने के लिए यह उपकरण प्राप्त होगा।

अधिक जानकारी के लिए संपर्क किया जा सकता है-  यूनिसेफ: श्याम सुधीर बंदी, संचार विशेषज्ञ, छत्तीसगढ़ यूनिसेफ कार्यालय 9479000755/dssbandi@unicef.org

Leave a Reply

Your email address will not be published.