डॉ. रमन ने कहाः इतिहास में पहली बार सीटिंग कलेक्टर के घर ईडी की रेड, व्यावसायियों के निवास पर छापा

मिसाल न्यूज़

रायपुर। पू्र्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि आज सुबह लगभग 5:00 से 7:00 के बीच ईडी की टीम ने कई अधिकारियों और व्यवसाइयों के निवास पर छापेमारी की। इससे प्रदेश सरकार की पोल खोल खुल गई है।

अपने निवास में प्रेस वार्ता लेते हुए पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. रमन सिंह ने कहा कि शायद हिंदुस्तान के इतिहास में पहली बार हुआ होगा कि किसी जिले में सीटिंग कलेक्टर के घर पर ईडी की रेड हुई और शासकीय आवास को सील करने की कार्यवाही की गई। इस घटना के बाद छत्तीसगढ़ न केवल देश और दुनिया के सामने शर्मसार हुआ है बल्कि छत्तीसगढ़िया सबले बढ़िया कहलाने वाले छत्तीसगढ़ में भ्रष्टाचार का नया झंडा गाढ़ा जा रहा है। हमने कभी कल्पना नहीं किया था कि चालीस-चालीस घरों में ईडी छापा मारेगी। छत्तीसगढ़ कांग्रेस पार्टी एवं सोनिया गांधी का एटीएम हो गया है। छत्तीसगढ़ में कोयले के ऊपर से अवैध वसूली वर्षों से हो रही है। कोरबा में पान ठेले वाले से लेकर कलेक्टर तक सब जानते हैं कि पैसा कौन लेता है और कहां जाता है। अब काली कमाई की पोल खुलने लगी है। सब सच सामने आएगा प्रक्रिया चल रही है। अब भी वक्त है पंजा छाप अधिकारी संभल जाएं। यदि भ्रष्टाचार में लिप्त रहेंगे तो कहीं भी बचने वाले नहीं हैं। ईमानदारी से काम करिए ज्यादा समय नहीं है। 1 साल का समय बाकी है। आज का हश्र देखकर सावधान हो जाएं। डॉ. रमन सिंह ने कहा कि छत्तीसगढ़ में जब आईडी की रेड पड़ी तभी से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बोल रहे हैं कि ईडी आएगा। जब इस दिन का इंतजार था तो घबरा क्यों रहे हैं। इस सरकार के पास छत्तीसगढ़ का विकास करने के लिए पैसे नहीं है लेकिन असम एवं यूपी आदि जगह के चुनाव में भेजने के लिए पर्याप्त पैसे हैं। आज तो यह शुरुआत है आने वाले समय में जब एक-एक तथ्य सामने आएंगे। यह सरकार जनता को जवाब देने योग्य नहीं रहेगी।

डॉ. रमन सिंह ने कहा कि इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है कि कलेक्टर कॉन्फ्रेंस में की गई 2 घंटे की चर्चा में सड़क के निर्माण की चर्चा नहीं हुई बल्कि उसमें डेढ़ घंटे सिर्फ गड्ढों पर चर्चा होती रही।  ये गड्ढे सवा साल में भरने वाले नहीं हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.