राजधानी रायपुर में होलीक्रास सहित चार निजी स्कूलों को जारी हुआ नोटिस, शिक्षा विभाग ने जांच में पाई खामियां

मिसाल न्यूज़

रायपुर। फीस बढ़ाने से लेकर स्कूलों में अध्ययन अध्यापन के लिये सुविधाओं की जांच पिछले तीन दिनों से जारी है। कलेक्टर सौरभ कुमार के सख्त निर्देश के बाद शिक्षा विभाग के जांच दल लगातार स्कूलों में दबिश दे जांच कर रहे हैं। आज भी जिला शिक्षा कार्यालय रायपुर एवं विकासखण्ड स्तर के निरीक्षण दलों द्वारा छह अशासकीय विद्यालयों का औचक निरीक्षण किया गया। होली क्रास स्कूल शैलेन्द्र नगर निरीक्षण दल को कोई भी दस्तावेज उपलब्ध कराने में असमर्थ रहा। होली क्रास स्कूल बैरन बाजार रायपुर में कक्षा नर्सरी एवं कक्षा 11 वी., कक्षा 12 वीं में 8 प्रतिशत से अधिक शुल्क वृद्धि की गई है। फीस वृद्धि में नोडल प्राचार्य का अनुमोदन नहीं कराया गया। साथ ही प्राचार्य द्वारा मान्यता संबंधी दस्तावेज उपलब्ध नहीं कराया गया। शंकरा उ.मा. शाला उरकुरा रायपुर में बच्चों की दर्ज संख्या तुलना में अधिक पाई गई। आडियल पब्लिक स्कूल उरकुरा में प्रयोगशाला नहीं मिली तथा स्कूल में कक्ष की कमी पाई गई। इन स्कूलों को तत्काल नोटिस देते हुए समस्त दस्तावेज के साथ कार्यालय में उपस्थित होने के निर्देश दिये गये हैं। साथ ही संबंधित शासकीय विद्यालय के नोडल अधिकारी को भी नोटिस जारी किया जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि निरीक्षण में निरीक्षण दल बच्चों द्वारा स्कुलों में उपयोग किया जाने वाले गणवेश, पुस्तक ,काॅपी की खरीदी,और उपलब्ध सुविधाओं के संबंध में जानकारी प्राप्त कर रहा है। इसके साथ ही शिक्षा के अधिकार अधिनियम 2009 के अनुसार पढ़ने वाले विद्यार्थियों का भी भौतिक सत्यापन किया जा रहा है। औचक निरीक्षण में निरीक्षण दलों द्वारा यह भी परीक्षण किया जा रहा है कि स्कूल द्वारा निर्धारित शुल्क, फीस नियामक समिति द्वारा अनुमोदित है या नहीं। फीस वृद्धि 8 प्रतिशत से अधिक हुई है या नहीं इसकी भी जांच की जा रही है। इसके अलावा स्कूलों में अग्निशमन यंत्र, पेय जल, शौचालयों की साफ-सफाई अध्यापन कक्ष की व्यवस्था, शिक्षकों की एवं बच्चों की उपस्थिति, बच्चों का (कोविड-19 ) टीकाकरण किया जा रहा है या नहीं का भी निरीक्षण किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.