रायपुर नगर निगम एमआईसी बैठकः गोलबाजार एवं रेन वॉटर हार्वेस्टिंग पर बड़े फैसले, कोटा-गुढ़ियारी रोड होगी पूर्व महापौर संतोष अग्रवाल के नाम पर

मिसाल न्यूज़

रायपुर। महापौर एजाज़ ढेबर की अध्यक्षता में आज हुई रायपुर नगर निगम की मेयर इन कौंसिल की बैठक में कुछ महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए।  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा गोल बाजार मालिकाना हक योजना के अंतर्गत की गई घोषणा के अंतर्गत प्रस्तावित विकास प्रभार की राशि को माफ किये जाने एवं वहां  प्रस्तावित निर्माण शुल्क के स्थान पर नियमितिकरण योजना पर सहमति बनी। व्हीआईपी रोड स्थित ग्राम फुण्डहर में सूडा द्वारा निर्मित व वर्तमान में नगर निगम के आधिपत्य में 124 कमरों के सर्वसुविधा युक्त वर्किंग वुमेन हाॅस्टल भवन को छग योग आयोग को नियम व शर्तों के तहत भवन हस्तांतरण किये जाने के प्रस्ताव को स्वीकृति दी गई। छग गृह निर्माण मंडल द्वारा बोरियाकला में निर्मित 1780 ईडब्ल्यूएस भवन 3 मंजिला के संबंध में स्वीकृति दी गई।

बैठक में महापौर एजाज ढेबर ने लगातार घटते भूजल स्तर पर चिंता जताई। नगर निगम क्षेत्र में शासकीय एवं निजी भवनों में आवश्यक रूप से रेन वाटर हार्वेस्टिंग का सिस्टम लगवाने उसकी नियमानुसार जांच करवाने कहा। रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाये बिना संबंधित निजी भवनों का नक्शा पास न किये जाने के निर्देश दिए। मानसून के दौरान सभी जोन कमिश्नरों को विशेष सतर्कता जल भराव के स्थानों पर विशेष सफाई पूर्व निश्चित करने के निर्देश दिए। महापौर ने सभी जोनों में रात्रिकालीन अवधि में विशेष रूप से रात्रि 8 बजे के बाद मानसून के दौरान रात्रिकालीन विशेष सफाई गैंग तत्काल बनाकर जिम्मेदारी तय करने के निर्देश दिये, ताकि जल भराव की स्थिति न आए।

रायपुर में 9 नवंबर 1984 से 26 फरवरी 1985 तक महापौर रहे एवं प्रथम वर्ष के कार्यकाल में नगर निगम की स्थाई समिति के अध्यक्ष पद पर निर्विरोध चुने गये स्व. संतोष अग्रवाल के नाम से कोटा-गुढ़ियारी मुख्य मार्ग का नामकरण करने पर सहमति बनी। सिद्धार्थ चौक टिकरापारा से बोरिया तक सड़क का नामकरण पूर्व राष्ट्रपति भारत रत्न डाॅ. ए.पी.जे. अब्दुल कलाम के नाम से करने एवं नरैय्या तालाब के किनारे उनकी मूर्ति स्थापना के प्रस्ताव पर सहमति बनी। कारी तालाब में स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्व. नंदकिशोर पाण्डेय की प्रतिमा स्थापना के प्रस्ताव पर सहमति बनी। महावीर (अनुपम ) उद्यान से डंगनिया स्कूल होते हुए कांशी होटल तक महादेवघाट को जोड़ने वाले मार्ग का नामकरण शहीद राजीव पाण्डेय के नाम से करने के प्रस्ताव पर सहमति बनी।

बैठक में निगम कमिश्नर मयंक चतुर्वेदी, एमईसी सदस्यगण ज्ञानेष शर्मा, श्री कुमार मेनन, नागभूषण राव, सतनाम सिंह पनाग, समीर अख्तर, सुन्दरलाल जोगी, श्रीमती अंजनी राधेश्याम विभार, श्रीमती द्रौपती हेमंत पटेल, आकाश तिवारी, रितेश त्रिपाठी, जितेन्द्र अग्रवाल, सुरेश चन्नावार, अपर आयुक्त अभिषेक अग्रवाल, सुनील चंद्रवंशी, अरविंद शर्मा, निगम सचिव डाॅ. आर.के. डोंगरे, सभी जोनों के कमिश्नर एवं सभी विभागों के प्रभारी अधिकारीगण मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.